आमिरखान को स्नेपडील से हटवाने के लिए बीजेपी ने रची थी साजिश !

नई दिल्ली । एक किताब में बीजेपी के सोशल मीडिया एक्टिविस्ट के हवाले से दावा किया गया है कि असहिष्णुता के मुद्दे पर फिल्म अभिनेता आमिर द्वारा बयान दिए जाने के बाद आमिर खान को स्नैप डील के ब्रांड एम्बेसडर से हटवाने के लिए भाजपा मुख्यालय में साजिश रची गयी थी । इसके लिए सोशल मीडिया टीम को आमिर खान के खिलाफ मुहिम छेड़ने को कहा गया था ।

प्रमुख जनर्लिस्ट स्वाति चतुर्वेदी द्वारा लिखी गयी इस किताब में पूर्व बीजेपी सोशल मीडिया एक्टिविस्ट साध्वी खोसला के हवाले से कहा गया है कि भारतीय जनता पार्टी ने विपक्षी राजनेताओं, गांधी परिवार, पत्रकार और फिल्मकारों को ट्विटर या सोशल मीडिया पर ट्रोल कराने के लिए एक अलग से टीम बनाई हुई है।

किताब में बीजेपी की आईटी सेल की पूर्व वॉलंटियर साध्वी खोसला के हवाले से कहा गया कि वॉलंटियर्स और कर्मचारियों को बीजेपी की आईटी सेल ने मुख्यधारा के पत्रकारों की एक हिटलिस्ट दी थी, जिन पर लगातार सोशल मीडिया पर हमला करना था। उन्होंने दावा किया कि इसका मकसद गांधी परिवार का पर्दाफाश करना औप उन्हें ट्रोल कराना था। किताब में कहा गया कि अगर कहीं भी मोदीजी के बारे में कोई अवांछित जिक्र होता है तो बीजेपी की डिजिटल ट्रैकिंग टूल्स की मदद से उसे सुधारा जाता है।

डेक्कन क्रॉनिकल में छपी एक रिपोर्ट में कहा गया कि इस किताब में लोकसभा चुनावों के समय की खोसला की चंडीगढ़ से बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर के साथ उन्हीं के घर चाय पर चर्चा के दौरान एक तस्वीर भी छापी गई है। एक चैप्टर द बीजेपी कनेक्शन में लेखिका ने खोसला के हवाले से लिखा कि लोकसभा चुनावों में जीत के बाद बीजेपी की आईटी सेल का कद और बढ़ गया और रोज नए लोगों को ढूंढकर उनको निशाना बनाए जाने लगा।

हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फ्री मोबाईल ऐप डाऊनलोड करे तथा हमे  फेसबुकटविटर और गूगल पर फॉलो करें