भोपाल एनकाउंटर में मारे गए पांच कैदियों के खंडवा में जनाजे के दौरान पथराव, तोड़फोड़

खंडवा। भोपाल में पुलिस एनकाउंटर में मारे गए पांच कैदियों का दफन खंडवा में किये गया । मंगलवार रात करीब 10.30 बजे पांच मृतको अकील, जाकिर, मेहबूब, अमजद और सलीक के जनाजे एक साथ निकाले गए। इस दौरान टपालचाल क्षेत्र में नारेबाजी के साथ ही पथराव हो गया।

एक बाइक में तोड़फोड़ कर कुछ घरों और धार्मिक स्थल पर भी पथराव किया गया। कहारवाड़ी के पास कलेक्टर स्वाति मीणा ने भी कुछ असामाजिक तत्वों पर लाठियां भांजी। रात 11 बजे जनाजे कब्रस्तान पहुंचे। इससे पूर्व शहर के प्रवेश मार्गों पर नाकाबंदी की गई और चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात रहा। खंडवा पूरी तरह हाई अलर्ट पर रहा।

इससे पूर्व पुलिस शाम करीब 7 बजे अकील खिलजी, अमजद, जाकिर, सलीक और मेहबूब के शव भोपाल से एंबुलेंस में लेकर गुलमोहर कॉलोनी पहुंची। लोहारी नाके से गुलमोहर कॉलोनी तक करीब 400 पुलिसकर्मी तैनात रहे। एंबुलेंस के लिए पुलिस ने आसपास के रास्ते ब्लॉक कर दिए थे।

एम्बुलेंस के आगे और पीछे पुलिस अधिकारियों के वाहन चल रहे थे। शव को कॉलोनी में मस्जिद के पास ही एक स्थान लाया गया। यहां पहले से टेंट लगाकर अन्य व्यवस्थाएं की गई थी। महिलाएं भी बड़ी संख्या में यहां मौजूद रहीं। परिजन को शव का चेहरा दिखाने की रस्म भी अदा की गई।

इस दौरान कुछ युवकों द्वारा नारेबाजी भी की गई। पांचों के शवों की शिनाख्ती के लिए सोमवार शाम को ही उनके परिवार के सदस्य भोपाल पहुंच गए थे। वहां परिजन ने खंडवा शव ले जाने की मांग की। इसको देखते हुए पुलिस ने शिनाख्त कराने के बाद शव को परिजन के हवाले किया।

Get Live News Updates Download Free Android App, Like our Page on Facebook, Follow us on Twitter or Follow us on Google